दिल्ली की यात्रा और संछिप्त परिचय

Dilli meri jaan

दिल्ली है दिलवालो की

जैसा की हम सभी जानते है की दिल्ली है दिल वालो की ये बहुत फेमस डॉयलॉग है अनयास ही जबान पे आ जाता है | फिर क्यों न हम दिल्ली की इतिहास और इस के स्थलों की जानकारी हासिल करे मैं आप लोगो को दिल्ली की परिवेश के बारे में धोड़ा बहुत जानकारी आप लोगो के सामने पेस कर रही हूं | प्लीज आप लोग इसे जरा ध्यान से पढिये गा |

Chalo Dilli

दिल्ली को घूमने के लिए बहुत कुछ है यहां, आप अपनी योजना के अनुसार दिल्ली को करीब से देख सकते है |

नई  डेल्ही में पूरे इंडिया और दुनिया भर से लोग इसे देखने आते है इसलिए हर उम्र, हर तरह के खाने से लेकर मंदिर, मस्जिद, गुरूद्ारे, चर्च सब हैं यहां। इसके अलावा हर बजट के ट्रैवलर्स (ट्रेवलर्स ) के लिए बजट होटल (बजट  होटल्स ) से लेकर 5 स्टार होटल्स (5 स्टार  होटल्स ) की पूरी लिस्ट (लिस्ट ) है। घूमने के लिए डीटीसी (डीटीसी ) की लो.फ्लोर बस (लौ  फ्लोर  बसेस), आॅटो (ऑटो), टैक्सी (टैक्सी ), इंटरनेशनल लेवल की मेट्रो (डेल्ही  मेट्रो ) तक यहां है। दुनिया भर के मेट्रो शहरों की तरह ही यहां पर वल्र्ड क्लाॅस एयरपोर्ट (वर्ल्ड क्लास एयरपोर्ट) है तो रेलवे स्टेशन (रेलवे स्टेशन) पर भी काफी भीड़भाड़ रहती है।

पुरानी दिल्ली

पुरानी दिल्ली

पुरानी दिल्ली  (ओल्ड डेल्ही) में चांदनी चैक (चांदनी चौक) की भीड़ वाली और संकरी गलियां हो या फिर बढ़े और खुले पार्क सभी के लिए कुछ ना कुछ है यहां।

दिल्ली आने के बाद आप ऐतिहासिक चीजें देखना चाहते हैं तो आप लाल किला (रेड फोर्ट), कुतुब मीनार, हुमायुं का मकबरा, जामा मस्जिद, पुराना किला (ओल्ड फोर्ट), राष्ट्रपति भवन (प्रेजिडेंट हाउस), संसद भवन (पार्लियामेंट ऑफ़ इंडिया), राजपथ, इंडिया गेट , जंतर-मंतर देख सकते हैं। प्रगति मैदान   के पास भैरों बाबा का मंदिर, गौरी शंकर मंदिर, सीपी यानि कि क्नाॅट प्लेस के पास हनुमान मंदिर, झंडेवालान मंदिर, कालका जी में कालका मंदिर, साउथ दिल्ली में छतरपुर मंदिर, वसंत विहार में हनुमान मंदिर, अक्षरधाम मंदिर, इस्काॅन मंदिर, लोटस टेंपल, बंगला साहिब गुरूदारा, रकाब गंज गुरूदारा, सीसगंज गुरूदारा, मजनूं का टीला गुरूदारा, सीपी के पास चर्च, नाॅर्थ दिल्ली में यहां का सबसे पुराना चर्च सेंट जेम्स चर्च जो कि सिर्फ रविवार को ही खुलता है। इनके अलावा दिल्ली में हजरत निजामुद्दीन की दरगाह, और जामा मस्जिद देखने जा सकते हैं। Golden Triangle Tour Packages

नई दिल्ली

अगर आप खाने के भी बड़े शौकीन हैं तो दिल्ली आपको खुश कर देगी। इंटरनेशनल कुजीन के लिए रेस्टोरेंट और मैकडी, डाॅमिनोज, पिज्जा हट, सब-वे  इंडियन फूड के अलावा बंगाली खाने के भी मुरीद हैं तो आप साउथ दिल्ली में सीआर पार्क की मार्केट में जाकर बंगाली खाने का पूरा मजा ले सकते हैं। नाॅन वेज खाने के लिए आप पुरानी दिल्ली में करीम के यहां पर जाकर नाॅन वेज का मजा ले सकते हैं तो आपको दिल्ली में क्नाॅट प्लेस के केजी मार्ग यानि कि कस्तूरबा गांधी मार्ग पर रिवाल्विंग रेस्टोरेंट परिक्रमा में जाकर खाने को इंजाय कर सकते हैं यहां पर खाने के साथ साथ घूमते हुए आप दिल्ली के दिल क्नाॅट प्लेस का नजारा भी देख सकते हैं। इसके अलावा दिल्ली में पराठंे खाने के लिए चांदनी चैक में परांठों के लिए वल्र्ड फेमस परांठे वाली गली जा सकते हैं जहां आपको इतनी ज्यादा वैराइटी में परांठे मिलेंगे जिनके बारे में शायद आपने सुना ही नहीं होगा।

शाॅपिंग लवर्स

शाॅपिंग लवर्स के लिए भी दिल्ली में बहुत कुछ है। नामी गिरामी बैंडस हो या डिजाइनर्स कलेक्शन हो या फिर बजट शाॅपिंग यहां सभी के लिए बहुत कुछ है। चंादनी चैक जो कि दिल्ली के सबसे पुराना बाजार है ये करीब 300 साल पुराना है यहां आप शाॅपिंग कर सकते हैं। क्नाॅट प्लेस में इनर सर्किल और पालिका बाजार भी काफी फेमस हैं। इनके अलावा आप सरोजिनी नगर, लाजपत नगर, करोल बाग, साउथ एक्सटेंशन, ग्रेटर कैलाश की एम ब्लाॅक मार्किट में आपको सभी पापुलर ब्रांडस के शोरूम मिल जाएंगे साथ ही रोड साइड शाॅप्स पर आप जमकर बार्गेन कर अपनी पसंद की चीजें खरीद सकते हैं। अगर आप हैंडी क्राफ्ट आइटम्स में दिलचस्पी रखते हैं तो आप हौज खास विलेज, आईएनए और प्रीतमपुरा के दिल्ली हाॅट जाकर ऐसी आइटम्स देख सकते हैं।  इनके अलावा डिजाइनर कलेक्शन के लिए आप साउथ दिल्ली में एमजी रोड यानि कि महरौली गुड़गांव रोड पर काफी सारे शोरूम है जिनसे डिजाइनर कपड़े, इंटीरियर डेकोरेशन आइटम्स खरीद सकते हैं।

संग्रहालय
ये तो हुई शाॅपिंग, फूड, और मंदिर, मस्जिद, गुरूदारे और चर्च की बातें। आपका इंटरेस्ट अगर दिल्ली का इतिहास जानने में भी है और दिल्ली आकर अगर आप ऐसा चांस मिस नहीं करना चाहते तो आप मुगलकालीन इतिहास जानने के लिए लाल किला जा सकते हैं जहां कैलीग्राफी जैसी ललित कला को दिखाने वाली पांडुलिपियां रखी गई हैं। पानीपत की लड़ाई से जुड़ी चीजों के अलावा यहां पर उस जमाने में पहने जाने वाले कपड़े, सेकेंड वल्र्ड वाॅर में अंग्रेजों ने जो हथियार इस्तेमाल किये थे वो भी आपको यहीं देखने को मिल जाएंगे। दिल्ली कैंट में आपको भारतीय वायु सेना के इतिहास को देखने के लिए वायु सेना संग्रहालय जाना होगा जहां हवाई जहाजों और वायु सेना के हथियारों को सहेज कर रखा गया है। इसके अलावा आप नेशनल म्यूजियम, रेल म्यूजियम भी देखने जा सकते हैं। If you are looking best holiday packages in Delhi India to Click here for good option  Delhi Sightseeing Tour by Car with Swantour.com its leading tour operators in India.

नई दिल्ली

नई दिल्ली

नई दिल्ली, लोग कहते हैं दिल्ली दिलवालों की है। बिलकुल सच यही है। हो भी क्यों न जब नई  दिल्ली को करीब से देखने का मौका मिला तो मैंने यही जाना। मूलरूप से दिल्ली बहुत ही खूबसूरत है। चाहे चांदनी चौक की सकरी गलियां हो या राजपथ की चौड़ी सड़क। कुतुबमीनार की ऊंची दीवार हो या हरियाली से घिरे खूबसूरत उद्यान। आज भी दिल्ली गिनती विश्वके सुंदरतम नगरों में होती है। अगर आप दिल्ली की सैर करना चाहते हैं और उस पल को यादगार बनाना चाहते हैं तो अपनी यात्रा को पांच अलग-अलग क्षेत्रों में बांट सकते हैं। दिल्ली हमेशा से एक रोचक शहर रहा है जहां एक विश्वव्यापी संस्कृति है। दिल्ली भारत की राजधानी ही नहीं पर्यटन का भी प्रमुख केंद्र भी है। अगर आप दिल्ली को अपने नजर से देखना और समझना चाहते हैं और वहां की ऐतिहासिक, धार्मिक, सांस्कृतिक और बाजारों के बारे में जानना चाहते हैं तो आप दिल्ली के हर इलाके की दर्शनीय स्थल को पांच भागों में बांटकर यात्रा कर सकते हैं।

Purani dilli

दिल्ली की प्रमुख पांच यात्राएं:-

1.दिल्ली  की ऐतिहासिक यात्रा

दिल्ली का इतिहास इसके स्मारकों से प्रत्यक्ष दिखाई देता है। कुतुब मीनार, हुमायूं का मकबरा और लाल किला (रेड फोर्ट) को विश्व विरासत का दर्जा प्राप्त है। हुमायूं का मकबरा और 72.5 मी. ऊंची कुतुब मीनार दिल्ली में शिल्पकला के महान उदाहरण हैं। महान मुगल बादशाह शाहजहां द्वारा निर्मित लाल किला 2.4 कि.मी. क्षेत्र में बना है। शाहजहां द्वारा निर्मित जामा मस्जिद भी शानदार तोहफा है। अक्षरधाम मंदिर और बहाई मंदिर (लोटस टैंपल) को देखने प्रतिदिन हजारों यात्री आते हैं। दिल्ली के विभिन्न स्मारक ब्रिटिश काल की उपनिवेशीय शिल्पकला को प्रदर्शित करते हैं। जैसे राष्ट्रपति भवन, सचिवालय भवन, राजपथ और भारत का संसद भवन। अन्य प्रसिद्ध स्मारकों में भारत का युद्ध स्मारक इंडिया गेट, जंतर मंतर है।

दिल्ली की धार्मिक यात्रा

2. दिल्ली की धार्मिक यात्रा

दिल्ली में धार्मिक आस्था की विभिन्नता की झलक भी मिलती है। यहां अनेक मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारे और गिरजाघर हैं। दिल्ली में भारत की सबसे बड़ी मस्जिद, जामा मस्जिद है। विश्व का सर्वाधिक देखे जाने वाला कालका मंदिर, बिरला मंदिर है। यहां का लोटस टैंपल बहाई समुदाय का प्रतिनिधित्व करता है जो सभी धर्मो की समानता का प्रतीक है। जेम्स स्कीनर द्वारा निर्मित उत्तरी दिल्ली स्थित सेंट जेम्स चर्च दिल्ली का सबसे प्राचीन चर्च है। यह चर्च केवल रविवार को खोला जाता है। दिल्ली में एक अन्य धार्मिक स्थल प्रसिद्ध गुरुद्वारा बंगला साहिब है। धार्मिक स्मारकों की सूची में जुड़ा नवीनतम नाम प्रसिद्ध अक्षरधाम मंदिर का है। यह मंदिर अपनी शानदार नक्काशी और सुंदर लॉन के लिए प्रसिद्ध है। इसके अलावा छतरपुर मंदिर, इस्कॉन मंदिर और हनुमान मंदिर आदि है।

दिल्ली की सांस्कृतिक यात्रा

3. दिल्ली की सांस्कृतिक यात्रा

प्राचीन काल में दिल्ली अनेक मुगल, राजपूत और अफगानी साम्राज्यों की राजधानी रही थी। विभिन्न संस्कृतियों को अपने में समेटे दिल्ली का एक मिश्रित इतिहास रहा है। दिल्ली में अनेक संग्रहालय है जो विभिन्न काल की कलाकृतियों और मूर्तिकला को प्रदर्शित करते हैं। लाल किले में स्थित पुरातत्व संग्रहालय में मुगलकालीन वस्तुओं का संग्रह है। यहां कैलिग्राफी जैसी ललित कला को प्रदर्शित करने वाली पांडुलिपियां प्रदर्शित की गई हैं। यहां उस काल की चित्रकला, कपड़े और कॉस्ट्यूम भी देखे जा सकते हैं। यहां एक खंड 1857 के युद्ध के अवशेषों को समर्पित है जिसमें नक्शे और हथियार प्रदर्शित हैं। भारतीय युद्ध स्मारक संग्रहालय भी लाल किले में है, जहां पानीपत के लड़ाई की स्मृतियों को सहेजा गया है। साथ ही प्रथम विश्व युद्ध में इस्तेमाल हथियारों और वर्दियां भी यहां प्रदर्शित हैं। इंडिया गेट के समीप राष्ट्रीय आधुनिक कला दीर्घा है। यहां कला संबंधी संदर्भ पुस्तकालय है, जिसमें पुस्तकों का विशाल संग्रह है। यहां के काउंटर पर सर्वश्रेष्ठ आर्ट रीप्रोडक्शंस बिक्री के लिए उपलब्ध रहते हैं। दिल्ली कैंट स्थित वायु सेना संग्रहालय भारतीय वायु सेना के इतिहास को प्रदर्शित करता है एवं यहां हवाई जहाजों तथा हथियारों का विशाल संग्रह रखा गया है।

दिल्ली में खरीदारी

4. दिल्ली में खरीदारी और यात्रा

दिल्ली हमेशा से उत्तर भारत का एक महत्वपूर्ण व्यापारिक केंद्र रहा है। यहां 300 वर्ष पुराना बाजार चांदनी चौक है, जो भारत का अब तक का सबसे प्रसिद्ध थोक वस्तुओं का वाणिज्यिक क्षेत्र है। लाजपत नगर मार्किट में सस्ते और अच्छी क्वालिटी के भारतीय गारमेंट मिलते हैं। कनॉट प्लेस एक खरीदारी का एक प्रमुख केंद्र है, जहां अच्छा भोजन भी मिल जाता है। आईएनए मार्किट के सामने, दिल्ली हाट और हौज खास विलेज में भारत के सांस्कृतिक हैंडिक्राफ्ट और हैंडलूम भी मिलते हैं। अन्य प्रमुख बाजारों में सरोजिनी नगर, करोल बाग, साउथ एक्सटेंशन और ग्रेटर कैलाश, लक्ष्मीनगर का मंगल बाजार आदि शामिल हैं। दिल्ली में कई शॉपिंग मॉल है।

दिल्ली की मेट्रो यात्रा

5. दिल्ली की मेट्रो यात्रा

मेट्रो स्टेशन से देखने वाले पर्यटन स्थल 

चांदनी चौक – दिगंबर जैन मंदिर, फतेहपुरी मस्जिद, गौरी ,शंकर मंदिर, जामा मस्जिद, लाल किला, सीस गंज, गुरुद्वारा, सलीम गढ़ फोर्ट

राजीव चौक– कनॉट प्लेस, बाबा खड़क, सिंह मार्ग स्टेट एम्पोरियम, बंगला साहिब गुरुद्वारा, हनुमान मंदिर, जंतर मंतर, जनपथ, लक्ष्मी नारायण मंदिर,

नई दिल्ली– शंकर इंटरनेशनल डॉल्स, संग्रहालय,

केंद्रीय सचिवालय –इंडिया गेट, राष्ट्रपति, भवन, संसद भवन, इंदिरा गांधी स्मारक, जवाहरलाल नेहरु स्मारक, लोधी गार्डन,नेशनल गैलरीफ मॉडर्न आर्ट, राष्ट्रीय संग्रहालय, राष्ट्रीय प्राणी उद्यान, नेहरू तारामंडल, पुराना किला,सफदरजंग का मकबरा, संस्कृति संग्रहालय, राष्ट्रीय रेल संग्रहालय

कुतुब मीनार- कुतुब मीनार, गार्डन ऑफ, फाइव सेंसिज,

छतरपुर – छतरपुर मंदिर, नेहरु प्लेस- इस्कॉन मंदिर, कालकाजी, मंदिर, लोटस टैंपल,

तुगलकाबाद – तुगलकाबाद फोर्ट,

पटेल चौक – राष्ट्रीय डाकटिकट ,संग्रहालय, मेट्रो संग्रहालय

खान मार्किट – इंडिया इंटरनेशनल सेंटर, खान मार्किट,

अक्षरधाम –    अक्षरधाम मंदिर,

प्रगति मैदान – शिल्पकला संग्रहालय, हुमायू का मकबरा, राष्ट्रीय विज्ञान केंद्र,

रिठाला – एडवेंचर आईलैंड

दिल्ली घूमने का सही समय

दिल्ली घूमने का सही समय:

दिल्ली घूमने का सही समय अक्टूबर से मार्च है। दिल्ली देखने के लिए बेस्ट टाइम वैसे तो पूरा साल ही है और यहां की सर्दी भी वल्र्ड फेमस है लेकिन अगर आप ज्यादा गर्मी, और सर्दी में नहीं जाना चाहते तो आप अक्टूबर, नवंबर, फरवरी और मार्च में आ सकते हैं तब आपको मौसम बेहद सुहावना मिलेगा।

दिल्ली कैसे पहुंचे

दिल्ली कैसे पहुंचे

दिल्ली भारत के सभी प्रमुख शहरों से हवाई, रेल और बस सेवा ये जुड़ा है। दिल्ली विदेशी शहरों की घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों से जुड़ा हुआ है। हते है तो अपनी यात्रा को पांच अलग-अलग समूह में बांट सकते हैं। दिल्ली हमेशा से एक रोचक शहर रहा है जहां एक विश्वव्यापी संस्कृति है। दिल्ली भारत की राजधानी ही नहीं पर्यटन का भी प्रमुख केंद्र भी है।

अगर आप दिल्ली  में अपने सपरिवार छुट्यो का पूरा मजा लेना चाहते है तो प्लीज आप स्वान के साथ अपनी हॉलिडे की यात्रा बुक करे और अपने दिल्ली की यात्रा को यादगार बनाये | Click here book your fantastic tour packages in India with swantour.com its a leading travel agents in India they are provides memorable holiday packages like, Rajasthan tour packages, Kashmir tour packagesKerala Vacation Package.

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s