लोहड़ी के त्यौहार पर अपनों को दें ऐसे बधाई

मकर संक्रांति पर शुभकामना सन्देश

मकर संक्रांति पर शुभकामना सन्देश

लोहड़ी के दिन त्यौहार का उत्साह बढ़ाने के लिए गांव के लड़के-लड़कियां अपनी-अपनी टोलियां बना कर घर-घर जा कर लोहड़ी के गाने गाते हुए लोहड़ी मांगते हैं। जिसके बाद कोई भी बच्चों को अपने घर से खाली हाथ नहीं भेजता। यह बच्चें पंजाब का पुराना लोक गीत दुल्हा भट्टी गाते हैं। सुंदर मुंदरए हो यह गीत काफी लोकप्रिय है।

पंजाब में लोगों के लिए इस त्यौहार का महत्व तब और बढ़ जाता है जब किसी परिवार में नए बच्चें का जन्म हुआ हो या फिर किसी की नई शादी हुई हो। उन घरों में लोहड़ी के जश्न को बेहद ही उत्साह के साथ मनाया जाता है।

13 जनवरी को हर साल लोहड़ी का त्यौहर मनाया जाता है। भारत में लोहड़ी का त्यौहार उल्लास के साथ मनाया जाता है। लोहड़ी का त्यौहार नए साल की शुरूआत में फसल की कटाई और बुवाई के उपलक्ष में मनाया जाता है। लोहड़ी पर होने वाली पार्टियों और कार्यक्रमों की तैयारी पूरी हो चुकी हैं। लोहड़ी के त्यौहार का अपना ही अलग मजा है।  लोहड़ी के त्यौहार का असली रंग पंंजाब में देखने को मिलता है। पंजाब में महिलाओं और पुरूषों द्वारा लोहड़ी की पवित्र अग्नि के ईदगिर्द किए जाने वाला लोक नृत्य भांगड़ा और गिद्दा बहुत ही प्रचलित है।

लोहड़ी का इतिहास

लोहड़ी का इतिहास

वैसे तो यह पर्व पंजाबियों द्वारा विशेष रूप से मनाया जाता है। शाम के समय तो लोग एक-दूसरे के घर जाकर मूंगफली, गजक और रेवड़ी आदि देकर त्यौहार की बधाई देते हैं लेकिन वर्तमान समय फेसबुक और व्टासअप जैसे माध्यम के जरिए भी बधाई देने का सिलसिला शुरू हो गया है। तो लोहड़ी के इस पावन अवसर पर आप भी अपने दोस्तों और परिवार वालों को इन मैसेज के जरिए लोहड़ी के इस त्यौहार की बधाईयां दे सकते हैं।

हैप्पी मकर संक्रांति

हैप्पी मकर संक्रांति

पंजाब के लोग जहां भी जाते है वह अपनी अलग पहचान रखते हैं और पंजाब के त्योहारों की भी अपनी एक अलग जगह है। लोहड़ी के अवसर पर हर घर में पंजाब का पारंपरिक खाना सरसों का साग, मक्के की रोटी और खीर भी बनाई जाती है। लोहड़ी का सिक्खों के लिए कोई धार्मिक महत्व नहीं है। पंजाब की संस्कृति से जुड़े होने की वजह से लोहड़ी का त्यौहार सिक्खों द्वारा मनाया जाता है। पंजाब का परंपरागत त्यौहार लोहड़ी केवल फसल पकने और घर में नए मेहमान के स्वागत का पर्व ही नहीं, यह जीवन में खुशियां बिखरने वाला त्यौहार है। लोहड़ी के दिन गुरुद्वारों में भी श्रद्धालुओं की काफी भीड़ देखने को मिलती है। लोगों का मानना है कि लोहड़ी का त्यौहार जीवन में खुशहाली का संदेश लेकर आता है।
फसल के इस त्यौहार पर आपका दिल खुशियों से भर जाए।

नाचती गाती लोहड़ी के गीतों संग, ढोल की थाप पर करें मस्ती

समस्त उत्तर भारत में लोहड़ी का त्यौहार हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। पंजाब और हरियाणा में तो लोहड़ी का त्यौहार मनाए जाने की बात ही निराली है। आपसी प्रेम और भाईचारे की मिसाल कायम करने वाला एक अनूठा पर्व है लोहड़ी जिसे सभी एक साथ मिलजुल कर नाच गाकर खुशियां मनाकर मनाते हैं। इस पर्व पर मौसम की कड़ाके की ठंड होती है और लोग लोहड़ी वाले दिन अपने घरों  के बाहर अलाव जलाकर अग्रि की पूजा करते हैं ताकि उनके घरों में दरिद्रता का समूल नाश हो और घर में सुख-समृद्धि का साम्राज्य स्थापित हो सके। पंजाबी लोगों में जिस घर में नई शादी हुई हो, शादी की पहली वर्षगांठ हो अथवा संतान का जन्म हुआ हो वहां तो लोहड़ी का विशेष महत्व होता है। लोहड़ी के दिन कुंवारी लड़कियां रंग-बिरंगे नए-नए कपड़े पहन कर ऐसे घरों में पहुंच जाती हैं और लोहड़ी मांगती हैं।

Punjabi couples doing bhangra

लोहड़ी के रूप में उन्हें कुछ रुपए, मूंगफली, रेवड़ी व मक्का की खील (पापकार्न) मिलती है । नवविवाहित लड़कों के साथ अठखेलियां करती हुई लड़कियां यह कह कर लोहड़ी मांगती हैं :
लोहड़ी दो जी लोहड़ी, जीवै तुहाडी जोड़ी।

इसी प्रकार नवजात शिशुओं को भी गोद में उठाकर लड़कियां उन्हें गीतों के माध्यम से आशीर्वाद देते हुए उनके माता-पिता से लोहड़ी मांगती हैं। इस प्रकार लोहड़ी के नाम पर उन्हें जितने भी रुपए या खाने-पीने की सामग्री मिलती है, उसे वे आपस में बराबर बांट लेती हैं।

लोहड़ी से कुछ दिन पहले ही गली-मोहल्ले के लड़के-लड़कियां घर-घर जाकर लोहड़ी के गीत गाकर लोहड़ी मांगने लगते हैं और लोहड़ी के दिन उत्सव के समय जलाई जाने वाली लकडिय़ां व उपले मांगते समय भी बच्चे लोहड़ी के गीत गाते हैं :
हिलणा वी हिलणा, लकड़ी लेकर हिलणा
हिलणा वी हिलणा, पाथी लेकर हिलणा
दे माई लोहड़ी तेरी जिए जोड़ी।

जिस घर से लोहड़ी या लकडिय़ां व उपले नहीं मिलते वहां बच्चों की टोली इस प्रकार के गीत गाती हुई भी देखी जा सकती है :
कोठे उते हुक्का, ये घर भुक्खा,
उड़दा-उड़दा चाकू आया,
माई दे घर डाकू आया।

मकर संक्रांति की शुभकामनायें

मकर संक्रांति की शुभकामनायें

लड़कियां जब घर-घर जाकर लोहड़ी मांगती हैं और उन्हें लोहड़ी मिलने का इंतजार करते हुए कुछ समय बीत जाता है तो वे गीत गाते हुए कहती हैं :
साडे पैरां हेठ सलाइयां,
असी केहड़े वेले दीयां आइयां।
साडे पैरां हेठ रोड, माई सानूं छेती-छेती तोर।

इन गीतों के बाद भी जब उन्हें लगता है कि उस घर से उन्हें कोई जवाब नहीं मिल रहा तो वे पुन: गीत गाते हुए कहती हैं :
साडे पैरा हेठ दहीं, असी इथों हिलणा वी नहीं।

मकर संक्रांति की मुबारकां

मकर संक्रांति की मुबारकां

समय के बदलाव के साथ हालांकि घर-घर से लकडिय़ां व उपले मांग कर लाने की परम्परा समाप्त होती जा रही है लेकिन लोहड़ी के दिन सुबह से ही रात के उत्सव की तैयारियां शुरू हो जाती हैं और रात के समय लोग अपने-अपने घरों के बाहर अलाव जलाकर उसकी परिक्रमा करते हुए उसमें तिल, गुड़, रेवड़ी, चिड़वा इत्यादि डालते हैं और माथा टेकते हैं। उसके बाद अलाव के चारों ओर बैठ कर आग सेंकते हैं। तब शुरू होता है गिद्दे और भंगड़े का मनोहारी कार्यक्रम, जो देर रात तक चलता है। लोहड़ी के दिन लकडिय़ों व उपलों का जो अलाव जलाया जाता है उसकी राख अगले दिन मोहल्ले के सभी लोग सूर्योदय से पूर्व ही अपने-अपने घर ले जाते हैं क्योंकि इस राख को ईश्वर का उपहार माना जाता है।

मकर संक्रांति पर शुभकामना सन्देश

मकर संक्रांति पर शुभकामना सन्देश

 

 

 

 

मकर संक्रांति पर शुभकामना सन्देश Makar Sankranti Wishes in Hindi

 

This slideshow requires JavaScript.

इस मकर संक्रांति 2017 अपने प्रियजनों को सुन्दर और अच्छे मकर संक्रांति WhatsApp और Facebook Status Update करें। पुरे भारत में इस त्यौहार को धूम धाम से मनाया जाता है।

इन कुछ वषों में मकर संक्रांति में लोग अपने रिश्तेदारों और मित्रों तक शुभकामनायें पहुँचाने के लिए WhatsApp, Facebook तथा अन्य सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट की मदद लेते हैं। इससे उन्हें ख़ुशी भी मिलती है और वह ज्यादा से ज्यादा लोगों को जल्द से जल्द अपनी शुभकामनायें पहुंचा सकते हैं।
सूरज की राशी बदलेगी,
कुछ का नसीब बदलेगा,
यह साल का पहला पर्व होगा,
जब हम सब मिल कर खुशियाँ मनाएंगे – हैप्पी मकर संक्रांति

ख़ुशी का है यह मौसम,
गुड और टिल का है यह मौसम,
पतंग उड़ाने का है यह मौसम,
शांति और समृद्धि का है यह मौसम : मकर संक्रांति की शुभकामनायें

हो आपके जीवन में खुशियाली,
कभी भी न रहे कोई दुख देने वाली पहेली,
सदा खुश रहें आप और आपकी Family, : Happy Makar Sankranti
यह भी पढ़ें ->  वैलेंटाइन दिवस कोट्स Valentine day Quotes for WhatsApp and Facebook in Hindi 2016

ठण्ड की इस सुभाह पड़ेगा हमे नहाना,
क्योंकि संक्रांति का पर्व कर देगा मौसम सुहाना,
कहीं जगह जगह पतंग है उड़ना,
कहीं गुड कहीं तिल के लड्डू मिल कर है खाना : मकर संक्रांति की मुबारकां

ठण्ड की इस सुभाह पड़ेगा हमे नहाना,
क्योंकि संक्रांति का पर्व कर देगा मौसम सुहाना,
कहीं जगह जगह पतंग है उड़ना,
कहीं गुड कहीं तिल के लड्डू मिल कर है खाना Makar Sankranti Wishes in Hindi

मीठी बोली , मीठी जुबान,
मकर संक्रांति पर यही है पैगाम ! मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकामनाएँ

टिल हम हैं और गुड आप,
मिठाई हम हैं और मिठास आप,
साल के पहले त्यौहार से हो रही है शुरुवात,
आपको हमारी तरफ से ढेर सारी मुराद

सभी लोगों को मिले सन्मति,
आज है मकर संक्रांति,
मित्रों उठ गया है दिनकर,
चलो उडाये पतंग मिलकर

एक सुबह नयी सी कुछ धुप,
अब नहीं रहेंगे हम साब चुप,
करेंगे पूजा पाठ,
खायेंगे गुड, तिल लड्डू साथ

बहार देखो !
मौसम खुशमिजाज़ है,
सूर्य हंस रहा है,
पेड़ पौधे नाच रहे हैं,
चिड़िया गा रहे हैं,
क्योंकि मैंने उन्हें आपको मकर संक्रांति की शुभकामनायें देने के लिए,
हमने कहा है !

हमें आशा है इस मकर संक्रांति आप के जीवन के सभी दुख जल कर रख हो जाएँ,
और आप के जीवन में खुशियाँ और प्यार भर जाये

तन में मस्ती, मान में उमंग,
देखकर सबका अपनापन,
गुड में जैसे मीठापन,
हो कर साथ हम उड़ायेंगे पतंग,
और भर लें आकाश में अपने रंग, Happy Makar Sankranti

पल पल सुन्हेरे फूल खिलें,
कभी न हो काटों का सामना,
जिंदगी आपकी खुशियों से भरी रहे,
मकर संक्रांति पर यही है यही है हमारी शुभकामना

S- Santosh संतोष
A- Anand आनंद
N- Nayavinayate नयाविनायते
K- Keerti कीर्ति
R- Roshni रौशनी
A- Atmiyate अत्मियते
N- Naturity नयी शुरुवात
T- Trupti तृप्ती
I- Iswarya ईश्वरीय
Happy Makar Sankranti

पूर्णिमा की चाँद,
रंगों की डोली,
चाँद से चांदनी,
खुशियों से भरी हो आपकी , झोली,
मुबारक हो आपको रंग बिरंगी,
पतंगों वाली मकर संक्रांति

तिल पकवानों की मिठास पकवानों में भारियाँ,
पतंगों की तरह आकाश में उड़न पैयाँ,
और अपनी मेहनत से अपने बुलंदिओं को संभाल के राखियाँ

मीठे गुड में मिल गए तिल,
उडी पतंद और खिल गए दिल,
हल पल सुख और हर दिन शांति,
आप सब के लिए लाये मकर संक्रांति

फेर आ गई भांगड़े दी वारी
लोहरी मनान दी करो तैयारी
आग दे कोल सारे आओ
सुंदर मुंदरिए जोर नाल गाओ

लोहड़ी का यह पावन त्यौहार आपके जीवन में कई अवसर लेकर आए
आपके सारे सपने हकीकत में बदलें और आपके प्रयास तरक्की में बदलें।

bhangra-dance

हैप्पी लोहड़ी…

लोहड़ी की आग आपके दुखों को जला दे
आग की रोशनी आपकी जिदंगी उजालें भर दे
लोहड़ी का प्रकाश आपकी जिदंगी प्रकाशमय कर दे
जैसे-जैसे लोहड़ी की आग तेज़ हो वैसे-वैसे हमारे दुखों का अंत हो।

Always take some of the play, fun, freedom and wonder of the weekend into your week & your work and I am always happy to meet my friend, and my friend is my weekend if you want celebrate this long weekend at happy lohri makerskarti with swantour.com, its a leading travel agents in India they are also provides a log weekend  option like all India holiday packages, Rajasthan tour packages, more more international holiday packages like Bhutan tour packages and Sri Lanka tour packages, Dubai Honeymoon Tour Packages and they more option visit at swantour.com and book your best options.

 

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s