गोवा (goa) गोवा पर्यटन के बारे में

गोवा पर्यटन

गोवा पर्यटन  – Luxury Hotels in Goa

गोवा, प्राकृतिक आकर्षण का एक स्वर्ग है, खूबसूरती से बसे समुद्र और  खूबसूरत नजारों के बीच, दुनिया भर में यात्रियों  का केंद्र है यहाँ लाखों लोगों  अपने  सपनो को पंख लगने के लिए यह यात्रा करते है।  यहाँ का रेत, और समुंदर के नज़ारे बहुत ही लुभावने लगते है जैसाकी दिल के झरोखों में एक भीनी सी खुशबू भीनी भीनी सर्द ह्वावो के बिच विदेशी ब।लाए मंन्त्र मुघ्ध कर देती है |  गोवा के  समुद्र तट, और शानदार समुद्री भोजन अद्वितीय गोवा पर्यटन की विशेषता है। गोवा के लिए यात्रा और इस स्वर्गीय निवास की रहस्यमय आकर्षण का पता लगाने। कुछ खूबसूरत यादें बनाने के समय आप गोवा पर्यटन उत्कर्ष का एक हिस्सा बन जाते हैं। अक्टूबर से फ़रवरी के बहुत ही सुखद है और सबसे अच्छा समय गोवा की यात्रा है। यहाँ तक कि समुद्र हालत इस समय सामान्य बनी हुई है।

गोवा पर्यटन

गोवा पर्यटन – Taj Exotica Goa

भूगोल

गोवा  कोंकों तटीय क्षेत्रों में भारत के पश्चिमी तट पर स्थित है। समुद्र तटों की भूमि, गोवा और कर्नाटक के उत्तर दक्षिण और पूर्व में महाराष्ट्र के साथ सीमाओं के शेयरों। इसके पश्चिम की तरफ, अरब सागर रूपों शानदार समुद्र तट। नदियों मांडोवी, तेरेखोल ( तिरकल), तलपोना, चपोरा, जुआ और साल गोवा के माध्यम से अपने रास्ते बुनाई और गोवा वाणिज्य में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

गोवा दर्शनीय स्थलगोवा दर्शनीय स्थल

गोवा दर्शनीय स्थल – Vivanta by Taj Holiday Village Goa

गोवा दर्शनीय स्थल

गोवा के नज़ारे जैसे मनो धरती पे स्वर्ग का वाश हो यहाँ की खूबसूरती बिच के नज़ारे परकृति  दर्शनीय स्थलों समुन्द्र की लहरे गो को स्वर्ग बनते है गोवा में रुचि  रखने वालो के लिए यहाँ घूमने के स्थान के अधिकांश उत्तरी गोवा, दक्षिण गोवा और पणजी के अंतर्गत आता है। ओल्ड गोवा विश्व विरासत का एक स्थान और अपने पुराने चर्चों के लिए बेहद लोकप्रिय है। उत्तरी गोवा काफी युवा पीढ़ी और पार्टी  गोेरस जहां दक्षिण गोवा के समुद्र तटों के रूप में प्राचीन और पर्यटकों अछूते नहीं हैं ।

गोवा दर्शनीय स्थल

गोवा दर्शनीय स्थल – Vivanta by Taj Fort Aguada Goa

खाद्य और  भोजन

ऐसे झींगे, Pomfrets, झींगा मछलियों, केकड़ों, क्लेम, सीपियों, ladyfish, और कस्तूरी के रूप में समुद्री भोजन गोवा के भोजन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा हैं। नमकीन और सूखी मछली भी काफी लोकप्रिय हैं। फेनी निस्संदेह गोवा के लोकप्रिय स्थानीय पेय है। वहाँ सरबत के दो प्रकार, नारियल से  बना हुआ और दूसरा काजू से  बना हुआ और बहुत ही लज़ीज़ टेस्टी मन को मोह लेने वाली।

स्थानीय धर्म

स्थानीय धर्म – Vivanta by Taj – Panaji Goa

स्थानीय धर्म
हिंदू धर्म और ईसाई धर्म मुख्य धर्मों, गोवा में पीछा किया, जबकि इस्लाम और अन्य धर्मों के भी व्यापक रूप से पालन कर रहे हैं।

गोवा मुद्रा और भाषा

गोवा मुद्रा और भाषा –The Leela Goa

गोवा मुद्रा और भाषा

गोवा में भारतीय रुपया चलता है जो भारत की बाकी  राज्यों के समान है रूप में समान है। यहाँ विभिन्न संप्रदायों के लोग रहते है यहाँ अधिक बोली जाने वाली भाषाओं कोंकणी, मराठी, पुर्तगाली, हिंदी और अंग्रेजी। बहुभाषी गोवा इसकी हजार सालो  का पुराने इतिहास है जो विभिन्न धर्मों, क्षेत्रों और भारत से जातीय जातियों के लोगों को देखा है विदेशों में गोवा में यहां बसने और यहां भाषा को प्रभावित करने के साथ ही यहाँ का परिवेश भी बदल दिया है | गोवा में रहने पे ऐसा लगता है की हम किसी विदेशी धरती पे कदम रख दिये हो ।

गोवा के लिए पर्यटन संकुल

गोवा के लिए पर्यटन संकुल – Park Hyatt Goa

 

गोवा के लिए पर्यटन संकुल

प्राकर्तिक सोंदर्य से से भरपूर स्थल goa अपने समुद्री तटों की वजह से दुनिया भर में प्रसिद्द है । कर्नाटक व महाराष्ट्र से घिरे गोवा के पश्चिम में लहलहाता अरब सागर है । यहाँ की राजधानी पणजी है जो की एक साफ सुथरा शहर है । वैसे तो पूरा साल गोवा जाने के लिए उपयुक्त है किंतु अक्तूबर से मई तक का समय गोवा जाने के लिए सबसे सही रहता है । और दिसम्बर में तो गोवा जाने का अलग ही मजा है क्योंकि क्रिसमस और नया साल यहाँ बड़ी धूमधाम के साथ मनाया जाता है नया साल मानाने के लिए यहाँ जगह जगह से लोग आते हैं इसीलिए इस समय यहाँ की रोनक देखते ही बनती है । इतिहास में महाभारत गोवा का उल्लेख गोपराष्ट्र के नाम से मिलाता है माना जाता है कि इस स्थान की रचना परुशराम ने की थी । इस स्थान का नाम गोवा पुर्तगालियों ने रखा था पुर्तगालियों ने यहाँ लगभग 400 साल तक राज किया इस बीच यहाँ अंग्रेजों व मराठों का राज भी रहा । 1561 में गोवा पुर्तगाली शासन से आजाद होकर भारत का हिस्सा बन गया । इतने समय तक पुर्तगाल का शासन रहने के कारण आज भी पुराने गोवा के घरों की बनावट में पुर्तगालियों की छाप नजर आती है । यह एक बहुत ही साफ सुथरा राज्य है यहाँ सड़कें सुंदर वृक्षोंसे सजी हैं । गोवा की प्रमुख भाषा कोंकणी और मराठी है लेकिन पूरे गोवा में हिन्दी बोली व समझी जाती है । दर्शनीय स्थलों के लिहाज से गोवा 2 भागों में बंटा हुआ है । उत्तरी गोवा और दक्षिणी गोवा । उत्तरी गोवा में मायेम झील, वागाटोर बीच, अंजुना बीच, कलंगूट बीच तथा फोर्ट अगोडा आदि हैं और दक्षिणी गोवा में पणजी, डोना पाऊला बीच, पुराने गोवा के बाम जीसस तथा सी केथेड्रल चर्च आदि हैं

कलंगूट बीच

कलंगूट बीच – Alila Diwa Goa

कलंगूट बीच

यह बीच गोवा के बीचों की महारानी कहलाता है और क्यों कहलाता है ये तो वहां जाने पर ही पता चलता है । यह बीच पणजी से लगभग 45 किलोमीटर की दूरी पर है। दूर तक फैले इस सुंदर तट पर हर समय बड़ी संख्या में सेलानी मोजूद रहते हैं । पूरे योवन के साथ उठती यहाँ की लुभावनी लहरें सभी को सम्मोहित कर लेती हैं । यहाँ शापिंग, पैरा सेलिंग, वाटर स्कीइंग , विंड सर्फिंग आदि एंजाय कर सकते हैं वैसे सेलानी यहाँ तैराकी का आंनद भी लेते है ।

अंजुना बीच

अंजुना बीच – Cidade de Goa Beach Resort

अंजुना बीच

नारियल के वृक्षों से घिरे इस बीच की रेत लाल रंग की है । इस बीच को पहले हिप्पियों का बीच कहा जाता था । इस बीच की मिटटी सूर्य की रोशनी में अनुपम छटा बिखेरती है शायद इसीलिए  अंजना बिच को गोआ  के सुन्दरतम बीचों में गिना जाता है । अगर आप मोलभाव में अच्छे मैं और आपको मोलभाव करके खरीदारी में मजा आता है तो यहाँ लगाने वाला बाजार भी आपके लिए एक आकर्षण है । इस बाजार में स्वीमिंग कास्ट्यूम, स्पोर्ट के सामान , कैमरे आदि के आलावा और भी बहुत कुछ सामान मोलभाव करके कम दाम में ख़रीदा जा सकता है । इस बाजार में खरीदारी का अलग ही मजा है । इस बीच पर चाँदनी रातों में हिप्पियों की पार्टियाँ होती हैं जो बड़ी संख्या में पर्यटकों को आकर्षित कराती हैं

dona paula beach

dona paula beach – The O Hotel Goa

डोना पाउला बीच

गोवा (Goa) का डोना पाउला बीच (dona paula beach) यहाँ के प्रमुख पर्यटक स्थलों में से एक है । इस बीच का नाम डोना पाउला यहाँ के एक वायसराय की बेटी डोना पाउला और एक मछुआरे की अधूरी प्रेम कहानी से जुड़ा है । यह पणजी (panaji) से लगभग 7 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है । यहाँ से मारगाओ बंदरगाह एंव जुआरी नदी के खूबसूरत द्रश्य मन मोह लेते हैं . यहाँ अनेक प्रकार की जल क्रीड़ाओं (water sports) का आनन्द लिया जा सकता है जैसे वाटर स्कीइंग (water skiing),वाटर सर्फिंग (water surfing), स्कूटरिंग (scootering) आदि । यहाँ स्पीड बोट (speed boat) और पैराग्लाईडिंग (paragliding) का मजा भी लिया जा सकता है । खरीदारी के लिए यहाँ पर स्ट्रा हैट, लैस वाले रुमाल, और मसाले ख़रीदे जा सकते हैं । इसके आलावा यहाँ की काजू फैनी (kaju feni) और पोर्ट वाइन (port wine) मशहूर हैं ।

बागा बीच

बागा बीच – Ramada Caravela Beach Resort

 

बागा बीच

अगर मन को एकांत और शान्ति चाहिए तो goa का यह बीच इसके लिए एकदम उपयुक्त है । क्योंकि यह बीच शहरी शोर शराबे से दूर एक शांत स्थल है . असल में यह बीच कोलंगूट बीच का ही विस्तार है और मछुआरों का प्रिय स्थल है । विदेशी सेलानियों में इस बीच का बड़ा क्रेज है । यदि इस बीच पर जाएँ तो बीच साईड केंडिल लाईट डिनर अवश्य करें क्योंकि इसका अलग ही मजा आता है । इस बीच पर बसें बहुत ही कम व दिन के समय तक ही आती हैं शाम को वापसी के लिए कोई सवारी नही मिलती अतः यहाँ देर तक रुकना हो तो अपना वाहन लेकर आना ही उचित रहता है ।

वागाटोर बीच

वागाटोर बीच – Grand Hyatt Goa

वागाटोर बीच

यह बीच भी goa के सुंदर बीचों में से एक है . यहाँ पानी अधिक गहरा नहीं है अतः जो लोग तेरना नही जानते वो यहाँ नहा सकते हैं एंव लहरों का आनन्द ले सकते हैं । यहाँ का तट पत्थरों से घिरा हुआ है इसीलिए पत्थरों से टकराती लहरें पास खड़े पर्यटकों को भिगो कर रोमांचित कर देती हैं ।

बाम जीसस चर्च

बाम जीसस चर्च – Zuri White Sands Goa

बाम जीसस चर्च

यह विश्वप्रसिद्ध चर्च पणजी से लगभग १० किलोमीटर की दूरी पर स्थित है इसका निर्माण 16वीं शताब्दी में हुआ था । यहाँ संत फ्रांसिस जेवियर्स का पार्थिव शरीर चांदी के ताबूत में बिना किसी मसाले या लेप के सुरक्षित रखा हुआ है । यह चर्च भारत में बारोक वास्तुकला का सर्वोत्तम उदहारण माना जाता है । भित्त्चित्रों व शिल्पकला से सुसज्जित इस चर्च की कलात्मकता देखते ही बनती है ।

संत केथेड्रल चर्च

संत केथेड्रल चर्च – Whispering Palms Beach Resorts Goa

संत केथेड्रल चर्च

यह चर्च बाम जीसस चर्च के ठीक सामने स्थित है । इस चर्च का निर्माण पुर्तगाली शासन में रोमन केथोलिकों द्वारा 16वीं शताब्दी में किया गया था । इसके निर्माण में लगभग 75 वर्ष का समय लगा था । यह चर्च एशिया के सबसे बड़े गिरजाघरों में से एक है । पुर्तगाली शेली के इस भवन का बाहरी हिस्सा सादापन लिए है जबकि अंदरूनी हिस्से की सजावट अपनी भव्यता से दर्शकों का मन मोह लेती है

इसके आलावा goa में कई चर्च, प्रसिद्ध मन्दिर, संग्रहालय व अभ्यारण हैं जो देखने लायक हैं ।

चर्च – संत फ्रांसिस, होली स्पिरिट, संत अगस्टिन आदि ।

मन्दिर – कमाक्षी मंदिर, सप्तकेतेश्वर मंदिर, श्री शांतादुर्ग मंदिर, महलासा नारायणी मंदिर, भगवती मंदिर व महालक्ष्मी मंदिर आदि।

अभ्यारण – बोंडला अभ्यारण, कावल वन्य प्राणी अभ्यारण, कोटिजाओ वन्य प्राणी अभ्यारण आदि

अगर आप को गोआ में अपनी सफर तय करना है तो आप अपनी बुकिंग स्वान टूर्स से सस्ते और डिस्काउंट रेट में अपनी लक्ज़री टूर्स बुक करा सकते है या आप  फ़ोन कर के कर के पूरी जानकारी ले सकते है अधिक जानकारी के लिए कृपया www.swantour.com को क्लिक करे धनयवाद अपना कीमती समय देने के लिए

Advertisements

One thought on “गोवा (goa) गोवा पर्यटन के बारे में

  1. Hi there would you mind letting me know which webhost
    you’re using? I’ve loaded your blog in 3
    different browsers and I must say this blog loads a lot quicker then most.
    Can you recommend a good web hosting provider at a reasonable price?
    Thank you, I appreciate it!

    Like

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s